दीर्घ कथा संकलन : April 2017

परिणाम

बड़ी कहानियाँ लिखना आसान कार्य नहीं है। पात्रों के चरित्र की स्थापना के साथ साथ कथानक में पर्याप्त घटनाक्रम का समावेश करना होता है। किन्तु यही तो कहानियों की लोकप्रियता का आधार है और इसी कारण अच्छा कहानीकार कभी भी पाठकों से विहीन नहीं रहता। आज सिरहाने की कहानी सुहानी प्रतियोगिता में हम लंबी कथाएँ लिखने में सक्षम लेखकों की खोज कर रहे हैं। आशा है यह प्रयास धीरे धीरे रंग लाएगा। वैसे भी कथाकारों के लिए उपयुक्त माध्यमों और मंचों का अभाव अनुभव किया जाता रहा है।

इस मेरी लिखी कहानी ” दो अजनबी” का एक अंश आधार हेतु प्रदान किया गया था। यद्यपि इस के विस्तार की व्यापक संभावना थी तथापि हमें पाँच प्रविष्टियाँ प्राप्त हुईं। संख्या भले ही सीमित रही किन्तु समस्त
प्रविष्टियाँ आपस में सर्वथा भिन्न और रचनात्मक स्तर पर उत्कृष्ट अनोखी हैं। मेरा आग्रह है कि आज
सिरहाने पर इन सभी को प्रकाशित किया जाए।

अब प्रतियोगिता है तो कहानियों को क्रम भी देना आवश्यक हो जाताहै। निर्णय का आधार नैसर्गिक
रचनात्मकता, कल्पनाशीलता, कथ्य की शुचिता, भाषा, शिल्प व शैली के साथ साथ दिये गए आधार
वाक्यों का कथा मे कुशलता पूर्वक समायोजन रहा है।

2017 EKESES Cue.png

प्रथम स्थान: प्रतिबिंब, अंतर्नाद

द्वितीय स्थान: अपरिचित, बात इक रात की

तृतीय स्थान: दो अजनबी

सभी प्रतिभागियों की उत्कृष्ट रचनाधर्मिता को प्रणाम करते हुए उनके सार्थक प्रयास और साहित्यिक चेतना के सम्मान में पर्याप्त समय दे कर मैंने अपने सीमित ज्ञान और अनुभव से प्रत्येक कहानी पर टिप्पणी* करने का दुस्साहस किया है। आशा है आप गुणी जन इसे सहृदयता से प्रतिसाद देंगे। जाने अनजाने हुई किसी त्रुटि के लिए अग्रिम क्षमा याचना करता हूँ। 

आपका शिशिर

3 Comments Add yours

  1. बहुत ही बेहतरीन कहानियाँ..ये लंबी कहानियाँ #आजसिरहाने को एक नये आयाम पर पहुँचायेगीं..शिशिर जी हर एक टिप्पणी बहुत कुछ सिखा जाती है..बहुत-बहुत धन्यवाद उनका भी..

  2. शिशिर sir, आपके cmments बहुत मायने रखते हैं मेरे लिए। बहुत कुछ सीखने को मिलता है। #आजसिरहाने का प्रयास सराहनीय है। 💐💐👌👌

  3. ajaypurohit says:

    बेहद रोचक कहानियाँ पढ़ने को मिली हैं इस संकलन में । इस विधा में एक अलग सी स्पर्धा दिखाई देती है मुझे । प्रयास करूँगा कि अगले संकलन में शामिल हो सकूँ । सभी लेखकों को बधाई ।

Leave a Reply to Kanchi Agrawal Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s