Best Of Swalekh : May 7, 2017

स्वलेख : मार्च 19, 2017 मार्गदर्शक : अर्चना अग्रवाल विषय : आशा चयनित कविताएँ सुहृद! मत देखो- मेरी शिथिल मंद गति, खारा पानी आँखों का मेरे, देखो- अन्तर प्रवहित उद्दाम सिन्धु की धार और हिय-गह्वर का मधु प्यार। ।।१।। मीत! मत उलझो- यह जो उर का पत्र पीत इसमें ही विलसित नव वसंत अभिलषित और […]