Best Of Swalekh : June 4

स्वलेख : जून 4, 2017 मार्गदर्शक : अर्चना अग्रवाल विषय : दोपहर  चयनित रचनाएं 1 दोपहर का वो वक्त  जब माँ सो जाया करती थी तब सभी बच्चों की टोली आम तोड़ने जाया करती थी माँ कोशिश तो करती थी खूब मुझे सुलाने की आँचल पानी में भिगोती थी और ओढ़ा देती थी मै शैतान…